मयंक यादव की बॉलिंग स्पीड, आईपीएल करियर जानिए 2024 |Mayank Yadav Biography in hindi

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

मयंक यादव लखनऊ सुपर जायंट्स के 21 साल के 6 फुटिया फ़ास्ट बोलर 23 मार्च को इन्होने आईपीएल डेब्यू किया और 2 अप्रैल तक 2 प्लेयर ऑफ द मैच अपने नाम किये इस खिलाड़ी ने 2 मैचो में 8 ओवर डाले और 6 विकेट अपने नाम किये ये सब में एक खास बात ये थी की ये खिलाड़ी 150 km/h की स्पीड से गेंदबाजी कर रहा था

पंजाब किंग्स से शुरू हुआ ये शिलसिला और इस बार RCB के बल्लेबाजो को खूब परेशान किया , ऐसी गेंदबाजी कर मयंक यादव सबके दिलो में छाये हुए है मयंक यादव कौन है इसके बारे में हम आपको पूरी जानकारी देने वाले है |

Mayank Yadav Biography in hindi

मयंक का जन्म 17 जुलाई 2002 को दिल्ली के मोती नगर इलाके में हुआ था दाये हाथ से बुलेट कि रफ़्तार से गेंद डालने के साथ साथ लोवर ऑडर में ठीक ठाक गेंदबाजी भी कर लेते है ,मयंक की स्कूलिंग पंजाबी बाग स्थित एसएम स्कूल से हुई है पड़ाइ में ठीक ठाक ही थे लेकिन पेस बॉलिंग से लगाव काफी ज्यादा था और इसके पीछे की वजह काफी हद तक उनके पिता प्रभु यादव रहे है जो की आटोमोबाइल का बिजनेश के साथ साथ क्रिकेट के काफी बड़े फैन थे उन्होंने 5 साल की उम्र में ही मयंक को बॉल और बल्ला थमा दिया था यही से शुरू हुई मयंक के खतरनाक पेसर बनने की कहानी

मयंक यादव की बॉलिंग स्पीड, आईपीएल करियर जानिए 2024 |Mayank Yadav Biography in hindi

मयंक की पिता ने कहा मुझे क्रिकेट से काफी लगाव था मै रात रात भर मैच देखा करता था कपिल देव ,कर्टनी एम्ब्रोस ,कर्टनी वॉल्श कि बॉलिंग मुझे काफी पसंद थी बाद में ग्लेन मैक्ग्रा और शान पोलॉक की बॉलिंग का भी मै फैन था और फिर मैने उन्हें देख कर सोचा की मयंक को इससे भी बड़ा बॉलर बनाउगा

मयंक की क्रिकेट जगत कि शुरुआत घर के पास वाले पार्क से ही हुई थी पापा के साथ संडे को क्रिकेट खेलते थे 7 साल की उम्र में जिमखाना क्रिकेट क्लब में दाखिला कराया था लगभग 5 से 6 साल तक मयंक ने क्रिकेट की a,B ,c,D सीखी फिर उनके पिता ने दिल्ली की मशहुर सोनेट क्रिकेट अकादमी में दाखिला करा दिया वही अकादमी थी जहा से रिषभ पंत ,शिखर धवन ,आशीष नेहरा जैसे कई खिलाड़ी निकले है जहा कोच देवेन्द्र सिहं ने मयंक के टैलेंट को पहचान ने में थोड़ी भी देरी नही लगाई |

इसे भी पड़े : एक ओवर में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज

तारक सर के साथ साथ देवेन्द्र सर ने भी मयंक और हमारी काफी मद्दत की है अकबार कैम्प में देने के लिए पैसे नही थे इसकी फ़ीस 60 -65 हजार के करीब थी मैने जब देवेद्र सर को इस बारे में बताया की थोड़े पैसे की तंगी है कुछ पैसे अभी देता हु बाकि के बाद में दे दूंगा लेकिन उन्होंने पैसा लेने से साफ इंकार कर दिया और कहा की इस बार की फ़ीस मेरी तरफ से

मयंक करीब 7 साल पहले अपने पापा के साथ अकादमी में आये थे वो देखने में काफी कमजोर से लग रहे थे लेकिन जब ट्रायल में उन्होंने बॉल डाली तो उनकी स्पीड से हर कोई हैरान रह गया इतनी कम उम्र में कोई दुबला पतला सा बच्चा कैसे इतनी तेज गेंद फैक सकता है मेरे हिसाब से मयंक को ये पेस स्पीड भगवान की तरफ से देन है|

मयंक का संघर्ष :

मयंक जब अकादमी में आए थे तो उनके पास जुते भी नही थे क्लब की तरफ से हि उन्हें जूते दिलाए गए इसके बाद से ही मयंक हमारी अकादमी का हिस्सा बन गये साल 2021 में मयंक को विजय हजारी ट्रॉफी में डेब्यू करने का मौका मिला और उन्होंने बेहतरीन बॉलिंग के जरिये दिल्ली को पहले ही मैच में जीत दिलाई |

बॉलिंग स्पीड :

मयंक कि सबसे खास बात सटीक सॉर्ट स्पीच गेंद रही है इसका किसी भी बल्लेबाज के पास कोई तोड़ नही रहा है मयंक शानदार लय के साथ गेदबाजी करते है और वो अपनी रनप के साथ काफी स्पीड जनरेट करते है उनकी स्पीड भगवान की तरफ से देन है लेकिन अभी तो ये शुरुआत हुई है इसके बाद तो और तेज गेंद डालते हुए नजर आयेगे ,बॉलिंग स्पीड कुल 155 km/h से 165 km/h तक भी देखि जाती है जो आश्चर्यजनक है

करियर

करियर की बात करे तो मयंक दिल्ली के लिए 1 रणजीत और 17 लिस्ट और 10 टी-20 मैच खेल चुके है जिसमे इनके नाम कुल 51 विकेट है मयंक ने पिछले साल हुए कर्नल सीके आइडल ट्रॉफी में 6 मैचो में 15 विकेट अपने नाम किये थे वही मयंक खुद को डेल स्टेन का फैन बताते है उनकी गेंद में प्राइम स्टेन की झलक भी दिखती है

आईपीएल :

मयंक यादव अभी लखनऊ सुपर जायंट्स की तरफ से पहले मैच खेलने के लिए कप्तान केएल राहुल ने इन्हें जगह दी ये मैच पंजाब किंग्स के खिलाफ था और इस मैच में मयंक ने सबसे तेज गेंद फेकी जो एक रिकॉर्ड बन गया, जो की 155 km/h की रफ़्तार से लगातार बॉल किये जा रहा थे लिविंगस्टन या शिखर धवन को बॉल दिख भी नही पा रहा थी न ही कुछ समझ आ रहा था अपनी शानदार गेंदबाजी से मयंक यादव 4 ओवर में 27 रन देकर 3 विकेट हासिल किये थे और लखनऊ सुपर जायंट्स को मैच भी जिताया

इसके बाद शिखर ने बहुत ज्यादा तारीफ करी मयंक यादव कि हम लोगो के हाथ से मैच को छिंद लिया पंजाब किंग्स के बल्लेबाजो को कोई मौका नही दिया |

इसे भी पड़े :

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

Leave a Comment